सोमालिया में मंत्रालयों के पास हुए भीषण बम धमाके में 276 लोगों की मौत, विश्व के नेताओं ने की कड़ी निंदा

 

सोमालिया की राजधानी में हुए अभी तक के सबसे शक्तिशाली बम विस्फोट में 276 लोग मारे गए हैं और करीब 300 अन्य घायल हो गए। देश के सूचना मंत्री ने आज यह जानकारी दी।

जानकारी के मुताबिक मतकों की संख्या में अभी और बढ़ोतरी हो सकती है। सोमालियाई नेता अब्दीरहमान उस्मान ने एक ट्वीट कर हमले को बर्बर करार दिया। उन्होंने बताया कि तुर्की और केन्या सहित कई देशों ने चिकित्सा सहायता की पेशकेश की है। विदेश मंत्रालय सहित महत्वपूर्ण मंत्रालयों के निकट व्यस्त चौराहे को निशाना बनाकर किए गए ट्रक बम विस्फोट के बाद अस्पतालों में भारी भीड़ लग गई।

अल—शबाब आतंकी संगठन को ठहराया जिम्मेदार
विस्फोट स्थल पर बड़ी संख्या में गुस्साए लोग एकत्रित हुए। सोमालिया सरकार ने हमले को राष्ट्रीय आपदा करार देते हुए अल—कायदा से जुड़े चरमपंथी गुट अल—शबाब को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया। अफ्रीका का यह घातक चरमपंथी समूह पहले भी कई बार राजधानी के महत्वपूर्ण क्षेत्रों को निशाना बना चुका है। बहरहाल, अभी तक हमले को लेकर उसने कोई टिप्पणी नहीं की है।

बता दें कि ट्रंप प्रशासन और नवनिर्वाचित सोमालियाई राष्ट्रपति के प्रशासन ने इस साल के शुरू में अल—शबाब के खिलाफ सैन्य कार्रवाई तेज करने की घोषणा की थी। इस घोषणा के बाद अल—शबाब ने अपने हमले तेज करने का संकल्प जाहिर किया था। सोमालिया में संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत माइकल कीटिंग ने इस हमले की निंदा की है।

विश्व के नेताओं ने की हमले की कड़ी निंदा
अमेरिका, लंदन और फ्रांस के नेताओं ने सोमालिया आत्माती हमले की कड़े शब्दों में निंदा की। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर हमले की निंदा की है। अमेरिका ने अपने बयान में कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में वॉशिंगटन सोमालिया सरकार, वहां के लोगों और अंतरराष्ट्रीय सहयोगियों के साथ बना रहेगा। उन्होंने कहा – ‘हम शांति, सुरक्षा और समद्धि हासिल करने के उनके प्रयासों का समर्थन करते रहेंगे।’

वहीं ब्रिटिश विदेश सचिव बोरिस जॉनसन ने कहा कि उनका देश कड़े शब्दों में मोगादिशू में हुए कायरतापूर्ण हमले की निंदा करता है, जिसमें कई मासूमों ने अपनी जान गवांई है। इसके अलावा फ्रांस के राष्ट्रपति एमैलुएल मैक्रों ने ट्वीट कर कहा – ‘हम सोमालिया के साथ एकजुटता से खड़े हैं। इस्लामिक आतंकवादी समूहों के खिलाफ हम अफ्रीकी सं का समर्थन करते हैं। फ्रांस आपके साथ खड़ा है।’

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s