जम्मू-कश्मीर: ईद के मौके पर भी पथराव, पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले, 5 जवान घायल

 

 

जम्मू एवं कश्मीर में सोमवार को ईद के अवसर पर घाटी के कई स्थानों पर सुरक्षा बलों और पत्थरबाजों के बीच हिंसक झड़पें हुईं, जिसके कारण उत्सव का रंग फीका पड़ गया। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में जंगलात मंडी इलाके में नमाज के तुरंत बाद भीड़ ने सुरक्षा बलों पर पथराव शुरू कर दिया, जिसमें एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी समेत पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। उसके बाद अनंतनाग जिले के अचबल इलाके में भी झड़पें शुरू हो गईं, जहां भीड़ ने सुरक्षा बलों पर पथराव किया।

दक्षिण कश्मीर के सोपोर, कुलगाम और पुलवामा शहरों में भी ऐसी ही झड़पें शुरू हो गईं। श्रीनगर के ‘ओल्ड सिटी’ इलाके में भी युवाओं ने सुरक्षा बलों पर पथराव किया, जिसमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के दो जवान घायल हो गए। उत्तरी कश्मीर के सोपोर और पट्टन शहरों से भी ऐसी ही झड़पों की सूचना है।

भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।
प्रत्यक्षदर्शियों और आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि सुरक्षा बलों की कार्रवाई में कई प्रदर्शनकारी घायल हो गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “सुरक्षा बल इन स्थानों पर पत्थरबाजों से निपटने के लिए अत्यधिक संयम बरत रहे हैं।” घाटी में अन्य स्थानों पर ईद की नमाज शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हुई। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने उच्च सुरक्षा वाले सोनावार इलाके की एक मस्जिद में ईद की नमाज अदा की।

घाटी में हजरतबल मस्जिद और अन्य मस्जिदों तथा ईदगाहों में बड़ी संख्या में श्रद्धालु ईद की नमाज अदा करते देखे गए। सुरक्षा कारणों से कई मंत्रियों, शीर्ष असैन्य और पुलिस अधिकारियों ने जिला पुलिस लाइन्स मस्जिद में सुबह 6.30 बजे नमाज अदा की। जम्मू एवं कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक रविवार को एक दिशा-निदेर्श जारी कर विशिष्ट व्यक्तियों (वीआईपी) को केवल सुरक्षित स्थानों पर ही ईद की नमाज अदा करने को कहा था।

पाक झंडा लहराया
कश्मीर के कई इलाकों में हिंसा के दौरान पाकिस्तानी झंडे लहराए गए हैं। इसके साथ ही कई जगहों पर सुरक्षाबलों पर पथराव के बाद भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे गए हैं। कश्मीर के पुलवामा जिले में प्रदर्शनकारियों द्वारा आतंकी हाफिज सईद, जाकिर मूसा और बुरहान वानी के पोस्टर लेकर प्रदर्शन किए गए है। पुलवामा में इन प्रदर्शनों के दौरान पाकिस्तानी झंडे भी लहराए गए हैं।

अलगाववादी नेता नजरबंद
अधिकारियों ने बताया कि अधिकारियों ने ईद के मौके पर भारी भीड़ जुटने के बाद हिंसा भड़कने के डर से सैयद अली गिलानी, मीरवाइज उमर फारख समेत सभी अलगाववादी नेताओं को र में नजरबंद कर दिया है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा जेकेएलएफ के चेयरमैन मोहम्मद यासिन मलिक को भी एहतियातन हिरासत में ले लिया है और उन्हें श्रीनगर के केन्द्रीय कारागार में रखा है।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s