44 पहुंचा पारा: दिल्ली-एनसीआर में रियल फील तापमान @ 47 डिग्री सेल्सियस

समूचे उत्तर भारत में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है। आज दिल्ली एनसीआर समेत कई इलाकों में अधिकतम तापमान 44 डिग्री से ज्यादा होने का अनुमान है। जबकि रियल फील तापमान 47 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है।

वहीं रविवार को दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के कई इलाकों में 47 डिग्री तक तापमान दर्ज किया गया। 4 जून दिल्ली एनसीआर में साल का सबसे गर्म दिन रहा। रविवार को इतनी ज्यादा गर्मी थी कि घरों में लगे कूलर, पंखे बेअसर हो गए। मौसम विभाग के मुताबिक गर्मी का प्रकोप अभी मंगलवार तक भीषण गर्मी झेलनी पड़ सकती है।
दिल्ली में सोमवार को सुबह 8:40 बजे ही पारा 36 डिग्री पर पहुंच गया। दिन में अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस रहेगा।

तीन दिन बाद बदलेगा मौसम का मिजाज
मोरा तूफान के दौरान हुई हल्की बारिश से लोगों को कुछ राहत मिली थी लेकिन रविवार को पूरे उत्तर भारत में जिस तरह से पारा चढ़ा उससे लोग झुलसते नजर आए। इधर कई दिन से बारिश नहीं होने से तापमान बेहद बढ़ा हुआ है। फिलहाल अगले तीन दिनों तक भीषण गर्मी से निजात मिलती नहीं दिख रही। मौसम विभाग के अनुसार 6 जून के बाद कई जगहों पर आंधी के साथ गरज और हल्की बारिश का अनुमान है।

 

12 बजे से 3 बजे तक धूप में जाने से करें परहेज
बच्चे और बुजुर्ग लोग ज्यादा गर्मी में बाहर न निकलें और समय-पर तरल पदार्थों को सेवन करते रहें।
मौसम विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि लू से बचने के लिए व्यक्ति दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक धूप में न जाएं।
बाहर का तापमान अधिक रहने पर जोरदार गतिविधियां न करें।
इस दौरान धूप में जाकर काम करने से भी बचें।
उच्च प्रोटीन युक्त खाना और बासी खाने का सेवन न करें।
इस दौरान शराब, चाय, कॉफी, कार्बोनेटिड शीतल पेय, जो शरीर में पानी की कमी करते हैं, का सेवन करने से बचना चाहिए।

निर्जला एकादशी व्रतियों को चुनौती दे रही गर्मी
आज निर्जला एकादशी है। उत्तर भारत के लाखों लोग इस दिन वृत रखते हैं ऐसे में भीषण गर्मी का प्रकोप व्रतियों के लिए चुनौती का सबब बन रहा है। इस व्रत को रखने वाले 24 घंटे तक बिना पानी पिए रहना होता है ऐसे में लू और बढ़ता तापमान इस व्रत को और ज्यादा कठिन बना रहा है। व्रत रखने वाले लोगों को सलाह है कि वह कूलर या अन्य साधनों के सहारे कम तापमान और पर्याप्त नमी वाले कमरे में रहें। दिन में बाहर न निकलें। व्रती कोशिश करें कि उन्हें कुछ काम न करना पड़े और न ही किसी से बात करनी पड़े क्योंंकि सक्रिय रहने या बात करने से मुंह सूख सकता है। परिजनों को यह भी ध्यान रखना चाहिए अगर व्रत रहने वाले की तबीयत खराब होने की आशंका हो तो बेहतर होगा कि व्रत तोड़वा दें।

रोजेदार भी बरतें खास एतिहात
सहरी के समय गर्म चाय और दूध जरूर लें,
मिल्क प्रोडक्ट का सेवन ज्यादा मात्रा में करें,
इफ्तार के समय अत्यधिक मात्रा में खजूर न खाएं,
एक साथ अधिक मात्रा में पानी न पीएं,
नारियल पानी का सेवन करें,
रात में कम मात्रा में भोजन करें,
ज्यादा मीठा खाद्य पदार्थ से बचें,
ड्राई चिकेन का प्रयोग करें,
फलों की सेवन करें (350 ग्राम तक) ।
गर्मी से बचाव के उपाय –
पानी, नीबू व तरल पदार्थ का खूब सेवन करें,
घर से निकलने से पहले मुंह पर कपड़ा बांधें,
सड़े-गले पदार्थ न खाएं,
गर्म और ताजा खाना खाएं,
पेटभर खाने के बजाए दिन में थोड़ी-थोड़ी दो तीन बार खाएं,
उल्टी-दस्त होने पर नमक पानी का घोल लें, पेट में गड़बड़ होने से तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें,
दिन में न्यूनतम दो बार जरूर नहाएं,
सूती व हल्के रंग का कपड़ा पहने,
बच्चों को खड़ी गाड़ियों में न छोड़ें

तापमान पर एक नजर
दिनांक अधिकतम न्यूनतम
4 जून -45 डिग्री – 34 डिग्री
5 जून -44 डिग्री- 33 डिग्री
6 जून -42 डिग्री – 31 डिग्री
7 जून -38 डिग्री- 28 डिग्री
8 जून -36 डिग्री – 26 डिग्री

रांची की गर्मी ने जून माह में 51 साल का रिकॉर्ड तोड़ा
राजधानी में गर्म हवा ने रविवार को कहर बरपाया। झुलसाती हवा के कारण रांची के तापमान ने जून माह का रिकॉर्ड तोड़ डाला। चार जून को रांची में 43.0 डिग्री तापमान दर्ज किया गया, जो माह के अबतक का सर्वोच्च तापमान है। यह सामान्य से छह डिग्री अधिक है। इससे पूर्व 10 जून-1966 में भीषण गर्मी पड़ी थी।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s