आज है हनुमान जयंती, 120 साल बाद बन रहा है विशेष योग, जानिये कैसे खुश होंगे बजरंग बली

 

हनुमान भक्तों के लिए हनुमान जयंती बेहद खास होती है. इस बार हनुमान जयंती 11 अप्रैल 2017 को है. इस बार हनुमान जयंती बेहद खास है, क्योंकि 120 बाद इस हनुमान जयंती पर खास संयोग बन रहा है. हनुमानजी के भक्तों पर विशेष कृपा बरसेगी.

दरअसल, इस हनुमान जयंती पर कुछ वैसा ही संयोग देखने को मिलेगा, जैसा कि शास्त्रों में हनुमानजी के जन्म के समय बताए गए हैं.

पंडित विनोद मिश्र के अनुसार इस दिन मंगलवार, पूर्ण‍िमा तिथि, चित्रा नक्षत्र रहेगा. शास्त्रों में हनुमानजी के जन्म के समय यही संयोग बताए गए हैं. इस दिन गजकेसरी योग और अमृत योग भी बन रहा है. यदि आप पर शनि की साढ़े साती या ढैया चल रही है तो आपके लिए यह दिन और भी शुभ होगा.

हनुमानजी भगवान शिव के 11वें अवतार माने जाते हैं और वानरदेव के रूप में इस धरती पर रामभक्ति और राम कार्य सिद्ध करने के लिए अवतरित हुए. हनुमान जी बाल ब्रह्मचारी हैं. इस दिन करें कुछ उपाय आपको पूरा फल देंगे. तो आइए जानते हैं कुछ उपाय:
1. हनुमान मंदिर में इस दिन एक सरसों के तेल का और एक शुद्ध घी का दीपक जलाएं और हनुमान चालीसा और सुंदरकाण्ड का पाठ करते हुए परिवार के लिए मंगलकामना करें.

2. मंगलवार को हनुमान जी पर गुलाब की माला चढ़ाएं. हनुमान जी को खुश करने का सबसे सरल उपाय है.

3. हनुमान जी हर बुरी शक्त‍ि का नाश कर हर काम में आगे बढ़ने में मदद करने वाले हैं. इस दिन मंदिर जाएं तो हनुमान जी को सिंदूर, लड्डू और बूंदी का प्रसाद चढ़ाएं. केसरिया रंग के वस्त्र भी भगवान को अर्पण कर सकते हैं. सच्चे मन और पूरी श्रद्धा से सभी के लिए प्रार्थना करें.

4. चूंकि हनुमान जी खुद श्रीराम के अनन्य भक्त थे तो आप श्रीराम की पूजा से भी उनको प्रसन्न कर सकते हैं .

5. पैसों की तंगी से जूझ रहे हैं तो पीपल के 11 पत्ते पर श्रीराम का नाम लिखें.

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s