Punjab Result: रुझानों में कांग्रेस बहुमत के पार

 

पंजाब में मतगणना शुरू हो चुकी है. राज्य की 117 विधानसभा सीटों के नतीजे आज शाम तक साफ हो जाएंगे. शुरुआती रुझानों में कांग्रेस पार्टी को 63 सीटों पर बढ़त हासिल है जबकि अकाली-बीजेपी गठबंधन 27 सीट पर बढ़त बनाए हुए है. दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी को पंजाब में 25 सीटों पर बढ़त हासिल है. पंजाब में 27 स्थानों के 54 मतदान केंद्रों पर मतों की गिनती जारी है. पंजाब के चुनावी नतीजों से राज्य के 1145 उम्मीदवारों के राजनीतिक भविष्य का फैसला हो जाएगा.

चुनावों में मतदाताओं के जनादेश पाने की होड़ में सत्तारुढ़ अकाली दल के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से लेकर, आम आदमी पार्टी के भगवंत मान और कांग्रेसी पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह बादल समेत राजनीति की कई प्रमुख हस्तियां शामिल हैं.

पंजाब के रुझानों पर बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि पंजाब में हमारी स्थिति और सुधरेगी. पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का आज जन्म दिन है और पार्टी के तमाम कार्यकर्ता उनके घर के बाहर जमा होकर जश्न मना रहे हैं. कैप्टन के घर की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है. आम आदमी पार्टी मालवा में ही जनाधार बनाने में कामयाब रही है. बागी दोआब और माझा में पार्टी को भारी नुकसान हुआ है.

कांग्रेस-AAP में कड़ा मुकाबला
पंजाब में 4 फरवरी को एक ही चरण में मतदान हुआ था और 75 फीसदी वोटिंग हुई थी. पंजाब में अभी शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी गठबंधन की सरकार है. कांग्रेस का दावा है कि पंजाब की सत्ता की बागडोर इस बार उसे मिलने वाली है. SAD-बीजेपी और कांग्रेस के अलावा इस बार दौड़ में आम आदमी पार्टी भी शामिल है. एग्जिट पोल में भी कांग्रेस और आम आदमी पार्टी को मजबूत दिखाया गया है, जबकि अकाली दल-बीजेपी गठबंधन को सत्ता से बाहर कर दिया गया है.
एग्जिट पोल ने भी अकाली दल-बीजेपी गठबंधन को नकारा
इंडिया टुडे-एक्सिस के एग्जिट पोल के नतीजों में कांग्रेस का 62 से 71 सीटों पर जीतने का अनुमान लगाया गया है, जबकि ‘आप’ को 42 से 51 सीटें दी गई हैं. इंडिया टीवी और सी वोटर के एग्जिट पोल ने कांग्रेस को 41-49 और ‘आप’ को 59 से 67 सीटों पर जीतते हुए दिखाया है. इंडिया न्यूज-एमआरसी और न्यूज 24-चाणक्य ने कांग्रेस को 55 और ‘आप’ को 54 सीटें मिलने का पूर्वानुमान लगाया है. इन सभी एग्जिट पोलों में अकाली दल-बीजेपी गठबंधन को 10 सीटें भी मुश्किल से दी गई हैं.
चुनाव आयोग ने की पूरी तैयारी
चुनाव आयोग ने मतगणना के लिए कड़े दिशा-निर्देश जारी किए हैं और मतगणना कक्ष के भीतर मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं होगी. सामान्य पर्यवेक्षकों के इतर हर मतगणना टेबल पर एक माइक्रो-आब्जर्वर को भी तैनात किया जाएगा. मतगणना केंद्रों के आसपास त्रिस्तरीय सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं. मतगणना केंद्रों के भीतर केवल केंद्रीय बलों की तैनाती की जाएगी. बाहरी क्षेत्र में स्थानीय पुलिस को ड्यूटी पर लगाया जाएगा. मतगणना केंद्रों के भीतर किसी भी अनधिकृत व्यक्ति के प्रवेश को रोकने के लिए अन्य राज्यों के पुलिस बलों की तैनाती की गई है. प्रवेश स्थल पर भीड़ और लोगों के प्रवेश को नियंत्रित करने के लिए एक वरिष्ठ मजिस्ट्रेट को तैनात किया जाएगा. मतगणना केंद्र के 100 मीटर की परिधि में वाहनों को प्रवेश की इजाजत नहीं होगी. स्ट्रांग रूम से मतगणना कक्ष तक ईवीएम को ले जाने की निगरानी के लिए अतिरिक्त सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं.

पिछले चुनाव का नतीजा
पंजाब में 4 फरवरी को एक चरण में ही मतदान हुआ था. राज्य में कुल 78.6 फीसदी वोट पड़े. अगर 2012 के विधानसभा चुनाव की बात करें तो पिछले चुनाव में बीजेपी-अकाली गठबंधन को 68 सीटें मिली थीं जबकि कांग्रेस पार्टी ने 46 सीटों पर जीत दर्ज की थी. हालांकि वोट शेयर के मामले में कांग्रेस पार्टी अकाली दल पर हावी रही थी. कांग्रेस को पिछले चुनाव में 40 फीसदी वोट मिले थे जबकि अकाली दल को 34.75 फीसदी वोट ही मिले थे. चुनाव में बीजेपी को 7.18 फीसदी वोट मिले थे. आम आदमी पार्टी पंजाब में पहली बार चुनाव लड़ रही है.

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s