सिसोदिया ने 48,000 करोड़ रुपये पेश किया बजट, जाने 10 बड़ी बातें

 

दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने अगले वित्त वर्ष 2017-18 के लिये 48,000 करोड़ रुपये का बजट आज पेश किया। इसमें मुख्य रूप से परिवहन, स्वास्थ्य, जल वितरण और शिक्षा संबंधी ढांचागत सुविधाओं में सुधार पर जोर दिया गया है। अरविंद केजरीवाल सरकार ने अपने तीसरे बजट में केंद्र के निर्णय के अनुरूप योजना और गैर-योजना व्यय मदों को समाप्त कर दिया और इसे राजस्व एवं पूंजी वगीर्करण के रूप में पेश किया।

बजट में किसी प्रकार के नये कर का कोई प्रस्ताव नहीं है। वित्त विभाग की भी जिम्मेदारी संभाल रहे उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पहली बार परिणाम बजट भी पेश किया। इसके बारे में उन्होंने कहा कि यह सरकार और लोगों के बीच अनुबंध के रूप में काम करेगा। सिसोदिया ने जोर देकर कहा कि नोटबंदी के बावजूद राज्य की अर्थव्यवस्था वद्धि करेगी।

उन्होंने यह भी कहा कि नोटबंदी से चालू वित्त वर्ष के लिये सकल राज्य घरेलू उत्पाद (जीएसडीपी) में (स्थिर मूल्य पर) गिरावट आएगी। हालांकि, इसके बावजूद यह राष्ट्रीय स्तर पर अनुमानित वद्धि दर से उंची होगी।

बाजार मूल्य पर राष्ट्रीय राजधानी की वद्धि दर 12.76 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया है। उन्होंने कहा, जब हम स्काईवाक के लिये धन का आबंटन करते हैं, केवल उसका निमार्ण करना सफलता नहीं होगा। उसकी सफलता इस बात पर निर्भर करेगी कि कितने लोग उसका उपयोग करते हैं। संक्षेप में यह परिणाम बजट के मकसद को बताता है।

1. नगर निकाय चुनावों को देखते हुए सरकार ने स्थानीय निकायों के लिये बजट में रिकार्ड 7,571 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। यह कुल आबंटन करीब 15 प्रतिशत है।
2. सरकार ने शिक्षा क्षेत्र के लिये 11,300 करोड़ रुपये का आबंटन किया है जो कुल बजट का करीब 24 प्रतिशत है। पिछले साल आबंटन 10,690 करोड़ रुपये था।
3. स्वास्थ्य क्षेत्र के लिये 5,736 करोड़ रुपये आबंटित किये गये हैं। आप सरकार के लिये यह प्राथमिकता वाला क्षेत्र है।
4. बजट में 1,156 करोड़ रुपये दिल्ली मेट्रो के चौथे चरण के लिये रखे गये हैं जबकि 100 करोड़ रुपये बस टर्मिनल और डिपो के विकास के लिये निर्धारित किये गये हैं।
5. सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली का देश के जीडीपी में योगदान 2016-17 में बढ़कर 4.08 प्रतिशत हो गया जो 2011-12 में 3.94 प्रतिशत था।
6. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि पूवोर्त्तर राज्यों जैसे दूरदराज के क्षेत्रों के लिये विमान ईंधन पर वैट को 25 प्रतिशत से कम करके एक प्रतिशत पर लाया जाएगा। यह केंद्र की क्षेत्रीय संपर्क को बढ़ावा देने की योजना के अनुकूल है।
7. सिसोदिया ने कहा कि आप सरकार बैटरी चालित वाहनों को सब्सिडी देना जारी रखेगी। यह पयार्वरण अनुकूल सार्वजनिक परिवहन प्रणाली को बढ़ावा देने के प्रयास का हिस्सा है।
8. 2,100 करोड़ रुपये जल क्षेत्र और यमुना की सफाई के लिये जबकि 3,100 करोड़ रुपये शहरी विकास के लिये रखे गये हैं।
9. दिल्ली महिला आयोग का बजट तीन गुना बढ़ाकर 120 करोड़ रुपये कर दिया गया है।
10. सिसोदिया ने कहा कि बिजली क्षेत्र के लिये आबंटन 2,194 करोड़ रुपये किया गया है और सौर्य उर्जा तथा कचड़े से बिजली पैदा करने पर जोर होगा।
पयार्वरण विभाग के लिये 57 करोड़ रपये आबंटित किये गये हैं जो शहर में प्रदूषण निरोधक उपायों को बढ़ावा देता है।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s